नई दिल्ली 11, Aug 2020

लेख

1 - भूमि पूजन के साथ शुरू हुई राम लला के गृह निर्माण की तैयारी

2 - उत्तर एवं पूर्वोत्तर भारत पर छाया प्राकृति का प्रकोप

3 - साइबर वार ने लिया खतरनाक मोड़

4 - सीमा तनाव के पीछे चीन की दोहरी मानसिक्ता

5 - कोरोना संक्रमण काल में भी सक्रिय है पासों की बिसात पर राजनीति

6 - अनानास मे विस्फोटक पदार्थ डालकर हाथी की हत्या

7 - उड़ीसा एवं वेस्ट बंगाल में तबाही का मंजर

8 - जारी है प्रवासी मजदूरों का भारी संख्या में पलायन

9 - कश्मीर में आज भी सक्रिय जहिादी गतिविधियाँ

10 - परस्पर सदभाव संवाद एवं शांति से होगी कोविड 19 पर विजय

11 - पालघर हत्याकांड की सीबीआई जाँच की माँग

12 - समरथ को नहीं दोष गोसाई

13 - जिला एवं तहसील स्तर पर प्रकाशनों की दुर्दशा का भी जरूरी है संज्ञान

14 - आगामी सप्ताह सख्ति से होगा लाक डाउन के नियमों का अनुपालन

15 - ध्यान एवं शारिरिक क्रियाओं के माध्यम से फिट रहिये स्वस्थ्य रहिये

16 - कोविद 19 से निपटने का महामंत्र संयम और संकल्प

17 - मध्य प्रदेश में बढ़ी कांग्रेस की सिरदर्दी

18 - कुछ इस अंदाज में मिले ट्रंप और मोदी

19 - झाड़ू ने किया हाथ और कमल का सफाया

20 - वायदों की बिसात पर दिल्ली की राजनीति

21 - 71 वें गंतंत्र दिवस परेड का आकर्षण सीआरपीएफ का मोटर सवार महिला दस्ता

22 - साधना एवं व्यायाम पर आधारित फालुन दाफा

23 - नागरिक्ता संशोधन कानून पर हो रही है वोट बेंक की राजनीति

24 - एनआरसी के नाम पर तुष्टिकरण की राजनीति

25 - झारखंड में समय की कसौटी पर है चाणक्य का चक्रव्युह

26 - चोसर की बिसात पर है महाराष्ट्र की सियासत

27 - राम लला को मिला उनका मालिकाना हक

28 - माकूल इंतेजामात के साथ मनाया जा रहा है छट महोत्सव

29 - दीपावली की हार्दिक शुभेच्छा

30 - एक बार फिर कमल खिला हरियाणा और महाराष्ट्र में

31 - इंसाफ की तलाश में भटक रहे हैं पीएमसी बैंक के खाताधारी

32 - विदेश नीति बनाम अर्थ नीति

33 - विजय दशमी के दिन होती है रावण की पूजा

34 - महाराष्ट्र और हरियाणा में सक्रिय राजनीतिक सरगर्मियाँ

35 - कुछ इस अंदाज में दिखे ट्रंप और मोदी

36 - गणपति बप्पा मोरया पुध्चे बरस तू लोकरया

37 - 9 राज्यों में गहराया प्राकृति का प्रकोप

38 - गो गो गो गोविंदा

39 - जम्मू-कश्मीर की पंचायतों में भी लहराया तिरंगा

40 - जम्मू-कश्मीर में बदलते परिवेश

41 - राम मंदिर एक परिकल्पना

42 - तीन बार रहीं दिल्ली की मुख्य-मंत्री हुई अलविदा

43 - राहुल गाँधी के इस्तीफे ने लिया नाटकीय मोड़

44 - रहना है स्लिम-ट्रिम तो नियमित रूप करो से योगा

45 - दीदी पर है हावी जय श्री राम फोबिया

46 - फिर इस बार मोदी सरकार

47 - स्याही और थप्पड़ बने चुनावी ढ़ाल

48 - कहीं इस बार फिर

49 - क्या फिर से खेलेंगे नरेंद्र मोदी एक नई पारी

50 - राजनीति का सितारा हुआ पंचतत्वों में विलीन

आतंकवादी वारदातों में क्यों होती है सांप्रदाय विशेष की भागीदारी

वो असले से भरी गाड़ी सीआरपीएफ के जवानों से भरी बस से भिड़ा देते हैं और विस्फोट में हमारे 40 जवान मारे जाते हैं । बुद्धिजीवी,सियासतदान और देश के राजनीतिज्ञ इसे शाहदत का जामा पहना देते हैं और देश में शुरू होता है श्रद्धांजली सभाओं वा केंडल मार्च का दौर । 
 
 
कुछ दिन मामला टीवी चेनल्स और मीडिया में परिचर्चाओं और कवि सम्मेलन के रूप में गर्म रहता है और उसके सब-कुछ सामान्य । रह जाती हैं तो बस इंसाफ की तलाश में भटकती मारे गये जवानों के परिवार की अश्रु पूरित आँखें । मदद के साथ कहीं ज्यादा जरूरी है मृतको को इंसाफ ।
 
 
क्या कसूर है उस छह माह के बच्चे का या फिर दरवाजे पर पिता के लौटने का इंतजार करती 10-12 साल की बच्ची का या फिर राजस्थान की मरूभूमी में अपने पति का इंतजार करती दो आँखें घर कब आओगे ।
 
 
सरहद पार से की गई साजिश को हमारे देश में अंजाम दिया जाता है और अंजाम देने वाले कोई गैर नहीं हमारे बीच हमारे ही देश के बंदे होते हैं । वो वारदात को अंजाम देते हैं और हम हाथ मलते हैं । वो हमारी गेरत को ललकारते हैं और हम दुहाई देते हैं ।
 
 
जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में आतंकवादी हमले  आम हैं । घर और धार्मिक स्थल आतंवादियों के पनाहगार होने से लोकल बाशिंदों की भागीदारी से इंकार भी नहीं किया जा सकता ।
 
 
आतंकवाद देश का आंतरिक मामला है और बिना अपने ही लोगों की भागीदारी के आतंकवादी वारदातों को अंजाम नहीं दिया जा सकता । जाहिर है इनसे निपटने की जिम्मेदारी  भी मौजूदा सियासतदानों की है । 
 
 
क्या फरक पड़ता है कि आतंकी वारदातों के लिये जेश-ए-मुहम्मद जिम्मेदार है या लश्करे तोयबा या फिर अलकायदा ।  जरूरी है तो बस अपने ही घर में इंसान की खाल में छिपे भेड़ियों से निपटना ।
 
 
विचारणीय है तो बस आतंकी हमलों में एक सांप्रदाय विशेष से जुड़े आदमी की भागीदार अब वो अब वो अमेरिका के वल्ड ट्रेड सेटर हुआ आतंकी हमला हो या फिर संसद पर अटेक और या फिर जम्मू कश्मीर के पुलवामा में । क्या मिल पायेगा के.पी.एस. गिल जैसा सुपर कोप हीरो.......  
 

01:14 pm 17/02/2019

संपादक

डा. अशोक बड़थ्वाल

Mobile : 91-9811440461

editor@dhanustankar.com

Slideshow

समाचार

1 - देश भर में कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जा रही है हर्षो-उल्हास से

2 - 12 महीने में 50 लापता बच्चे खोज निकालो पर समय से पहले पदोन्नति

3 - श्रीलंका पीपुल्स पार्टी को मिली एक तिहाई बहुमत से जीत

4 - पुलिस परिवार की विशाखा यादव को प्रशासनिक सेवा परिक्षा में छठा दर्जा

5 - भारी बारिश के कारण मुंबई हुई अलर्ट

6 - दिल्ली के पत्रकार के खिलाफ पश्चिम बंगाल की छवि खराब करने का मुकदमा

7 - जान की परवाह किये बिना बदमाशों को धर दबोचा

8 - चंद दशकों में बाघों के प्राकृतिक आवास क्षेत्र में हो रही कमी

9 - गेहलोत सरकार को गिराने की कोशिश के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन

10 - सोमू वीरराजू आंध्र प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के नये अध्यक्ष

11 - एसीपी संकेत कौशिक को पुलिस संमान के साथ अंतिम विदाई

12 - पैसा हड़पने के लिये 3 लाख की फर्जी लूट को दिया अंजाम

13 - पत्रकार विक्रम जोशी की निर्मम हत्या के विरोध मे धरना प्रदर्शन

14 - मध्य-प्रदेश के राज्यपाल लाल जी टंडन हुए अलविदा

15 - चंद्रकांत पाटिल गुजरात के एवं नमग्याल लद्दाख के बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष

16 - हर्बल तेल के व्यापार में सांझेदारी के नाम पर ठगी

17 - पटना सहित अन्य प्रभावित जिलों में 31 जुलाई तक लाकडाउन

18 - लावारिस दुधमंही बच्ची की देखभाल कर रही कांस्टेबल की पत्नी

19 - रक्षा मंत्री राजनाथ ने की लेह स्थित सैन्य ठिकानो की समीक्षा

20 - हत्या की साजिश नाकाम करने के लिये पुलिस टीम संमानित

21 - अब भी बरकरार है संकट गहलोत सरकार पर

22 - कोरोना से निपटने के लिये नियमों का अनुपालन जरूरी

23 - चंद घंटों में गुमशुदा बच्ची को तलाश कर उसके परिवार को सौंपा

24 - वांछित हिस्ट्रीशीटर विकास दूबे की एनकांउंटर में गोली लगने से मौत

25 - सूरमा भोपाली हुए दुनिया से अलविदा

26 - वांछित हिस्ट्रिशीटर विकास दूबे का सहयोगी मुठभेड़ में ढ़ेर

27 - जान की परवाह न करते हुए धर दबोचा दो पेशेवर हत्यारों को

28 - ऐतिहासिक स्मारक आज से जनता के लिये खुले

29 - दिल्ली से किडनेप हुई लड़की पटियाला में बरामद

30 - इंद्रमणी पांडे बने संयुक्त राष्ट्र संध में भारत के नये राजदूत

31 - दो पुलिसकर्मियों ने दिया ब्लड प्लाजमा दान

32 - ग्लोबल टाइम्स एवं चीन की नतियों के खिलाफ पत्रकारों का प्रदर्शन

33 - भ्रामक विज्ञापनों के माध्यम से शराब सप्लाई के नाम पर होती ठगी